धनदायक तांत्रिक टोटके – धनदायक बनने का तरीका – धनवान बनेका तरीका

धनदायक तांत्रिक टोटके – धनदायक बनने का तरीका – धनवान बनेका तरीका

धनदायक तांत्रिक टोटके – धनदायक बनने का तरीका – धनवान बनेका तरीका जब हम किसी घर की कल्पना करते है तो हमारे सामने सर्वप्रथम गृहिणी  का ही चित्र उभरता है | यही वास्तविक आदर्श अनुभव होता है और यह आदर्श जब टूटता है तो अनुभव होता है की हमारा घर टूट रहा है, क्योकि परुष के बिना नारी कितनी भी अधूरी क्यों न हो, नारी के बिना हर परुष का घर वीराना है | नारी पुरुष की प्रेरणा है | उसके बिना सब कुछ अधूरा है |

हम यह भी कह सकते है की हर पुरुष की सफलता के पीछे किसी-न -किसी- नारी का हाथ होता है | इस विषय मे अनेक उदाहरण हमारे सामने है | अगर रत्नावली नै तुलसी को प्रेरणा न दी होती तो आज वे महान कवि नहीं होते | कार्ल मार्क्स को उन्नति के शिखर पर पहुँचाने मे उनकी पत्नी जेनी मार्क्स का त्याग और प्रेरणा ही महत्त्वपूर्ण है | यशोधर ,उर्मिला का चरित्र और व्यकितत्व इस बात को प्रदर्शित करता है की स्त्री मे प्रेरणा बनने की ललक शाश्वत रूप से रहीहै और उसने कहि भी अभी भी पीटीआई की प्रयोग मे भद्दा उतपन्न नहीं की |

धनदायक तांत्रिक टोटके - धनदायक बनने का तरीका - धनवान बनेका तरीका

पत्नी का सहयोग परिवार की प्रगति के लिए नयी दिशाए स्थापित कर सकता है | परिवार मे कठिन और विषम परिस्तिथतियो के कारण धनदायक  तांत्रिक टोटके

जब हम किसी घर की कल्पना करते है तो हमारे सामने सर्वप्रथम गृहिणी  का ही चित्र उभरता है | यही वास्तविक आदर्श अनुभव होता है और यह आदर्श जब टूटता है तो अनुभव होता है की हमारा घर टूट रहा है, क्योकि परुष के बिना नारी कितनी भी अधूरी क्यों न हो, नारी के बिना हर परुष का घर वीराना है | नारी पुरुष की प्रेरणा है | उसके बिना सब कुछ अधूरा है |

धनदायक तांत्रिक टोटके – धनदायक बनने का तरीका – धनवान बनेका तरीका

हम यह भी कह सकते है की हर पुरुष की सफलता के पीछे किसी-न -किसी- नारी का हाथ होता है | इस विषय मे अनेक उदाहरण हमारे सामने है | अगर रत्नावली नै तुलसी को प्रेरणा न दी होती तो आज वे महान कवि नहीं होते | कार्ल मार्क्स को उन्नति के शिखर पर पहुँचाने मे उनकी पत्नी जेनी मार्क्स का त्याग और प्रेरणा ही महत्त्वपूर्ण है | यशोधर ,उर्मिला का चरित्र और व्यकितत्व इस बात को प्रदर्शित करता है की स्त्री मे प्रेरणा बनने की ललक शाश्वत रूप से रहीहै और उसने कहि भी अभी भी पीटीआई की प्रयोग मे भद्दा उतपन्न नहीं की |

 

पत्नी का सहयोग परिवार की प्रगति के लिए नयी दिशाए स्थापित कर सकता है | परिवार मे कठिन और विषम परिस्तिथतियो के कारण पत्नी ही पति की प्रेरणा स्त्रोत बनती है और व्ही ोुस्का मनोबल बढ़ती है | पत्नी का सहयोग पाकर पति हर प्रकार के संघर्ष से जूझ जाता है |

 

अगर पत्नी पति के प्रति उपेक्षापूर्ण व्यवहार अपनाएगी तो पति को भावनात्मक सहयोग नहीं मिलेगा | कहने का तातपर्य यह है की पारिवारिक आशाओ की पूर्ति के लिए पत्नी के सहयोग की भी आवश्यकता होती है | इन अपेक्षाओं की पूर्ति के लिए पत्नी के सहयोग की भी आवश्यकता होती है | इन अपेक्षा की पूर्ति क लिए निरंतर सहयोग और परस्पर विश्वास होना नितांत आवश्यक है | नारी का व्यवहार भी पति के प्यार को बढ़ता है | वः ख्याति अर्जित करता है | सदैव अपने अभवो , दोषो अथवा असफलताओ के लिए पति को दोषी ठरना  तथा उन्हें अपमानित  करना आपके हिट मे नहीं है |

धनदायक तांत्रिक टोटके – धनदायक बनने का तरीका – धनवान बनेका तरीका

वास्तव मे इस प्रकार के आचरण से स्त्री को  कोई लाभ नहीं होगा | अपनी कमियों अथवा पति की कमियों का प्रदर्शन दुसरो के सामने बिलकुल न करे | इससे आपकी कठिनाइयों मे और वृद्धि होगी तथा आप समाज मे हिंसी की पात्र बनेगी |

नारी का व्यवहार परिवार को सजाने , संवारने और बनाने मे सहारा बनेगा , पति-पत्नी के मिले-झूले पर्यटन सेव् ही घर को प्यार के मंदिर मे बदल सकेगी | इसीलिए आप अपनी इस महत्त्वपूर्ण भूमिका को पहचाने | पत्नी की यह भूमिका ही उसे गृहलक्ष्मी का मान-सम्मान परदेस करेगी और उसकी परिवारिक अपेक्षाओं को भी पूरा करेगी |

दुर्भाग्यवश अगर ऐसा नहीं, कारण जन्मकुंडली का न मिलना या अशुभ समय पर  विवाह का होना हो तब आप ज्योतिषी अथवा तांत्रिक की शरण मे जाए | वह साधन अथवा ग्रहो

 

 

 

Best Dua For Love – The Importance of Dua

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
_linkedin_data_partner_id = "81016";